Tu Dede Mera Sath Shayari – तू देदे मेरा साथ शायरी !

tu dede mera sath

क्या आप तू देदे मेरा साथ शायरी तलाश रहे है अगर हा तो हम आपके लिए लाये है तू देदे मेरा साथ शायरी हिंदी में जिसे आप अपने किसी खास दोस्त के साथ सोशल मीडिया पर अकाउंट पर शेयर कर सकते है 

तू देदे मेरा साथ शायरी पढ़े 😉

 

तू देदे मेरा साथ
थाम ले हाथ चाहे जो भी हो बात
तू बस देदे मेरा साथ

Tu Dede Mera Sath
Thaam Le Haath Chaahe Jo Bhee Ho Baat
Tu Bas Dede Mera Sath

Let’s wrap it,

हम आशा करते है आपको तू देदे मेरा साथ हिंदी शायरी पसंद आई होगी अगर आपको तू देदे मेरा साथ शायरी पसंद आई इस शायरी को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करके आप अपना प्यार दिखा सकते है और हमारा उत्साह बढ़ा सकते है अगर आपको इस शायरी से कोई समन्धित कोई सवाल हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है !

और शायरी पढ़े 😉 

Devdas Shayari Shahrukh Khan – देवदास शायरी शाहरुख खान के जुबानी

शाहरुख़ खान – मुंबई के बादशाह है शाहरुख़ खान एक ऐसी हस्ती है जिनको आज दुनिया का बच्चा बच्चा जानता है एक समय था जब शाहरुख़ खान को मुंबई शहर ने ठुकराया था और उन्होंने कहा था एक वह मुंबई पर राज करेंगे एक दिन पूरी दुनिया उन्हें बादशाह के नाम से जानेंगी और उन्होंने अपने मेहनत और लगन से इस कथन को सच कर दिखाया और आज हम इनको बॉलीवुड के बादशाह के नाम से जानते है शाहरुख़ खान बॉलीवुड में अपनी एक अलग ही पहचान के लिए प्रसिद्ध है इनके बारे में जिनती भी चर्चा की जाए वह कम ही होगी पर हम शाहरुख़ खान जी के बारे में बात करते करते अपने टॉपिक से अलग ही निकल गए तो वापिस आते है अपने टॉपिक पर आज हम शाहरुख़ के एक बहुत ही फेमस फिल्म देवदास मूवी के बारे में बात करेंगे जो अपने टाइम में बहुत ही सुपर डुपर हित मूवी रही है इस मूवी में शाहखान खान ने जो डायलोग कहे है न वो आज भी दिल को चल्चलित करने वाले है  जी हा आज हम आपके लिए इस पोस्ट में Devdas Shayari Shahrukh Khan द्वारा बोले जाने वाले डायलॉग लेकर आये है जो आज भी आपको लोगो के जुबा पर सुनने को मिलते होंगे तो चलिए एक नजर डालते है देवदास मूवी के उन फेमस डायलॉग पर..

Devdas Shayari By Shahrukh Khan 😉

बाबू जी ने कहा गांव छोड़ दो,
सब ने कहा पारो को छोड़ दो…
पारो ने कहा शराब छोड़ दो,
आज तुमने कह दिया हवेली छोड़ जो…
एक दिन आएगा जब वो कहेंगे दुनिया छोड़ दो…

Baaboo jee ne kaha gaanv chhod do,
Sab ne kaha paaro ko chhod do…
Paaro ne kaha sharaab chhod do,
Aaj tumane kah diya havelee chhod jo…
Ek din aaega jab vo kahenge duniya chhod do…

Devdas Shayari Shahrukh Khan

कौन कमबख्त बर्दाश्त करने को पीता है..
हम तो पीते हैं कि यहां पर बैठ सकें,
तुम्हें देख सके, तु्म्हें बर्दाश्त कर सकें…

Kaun kamabakht bardaasht karane ko peeta hai..
Ham to peete hain ki yahaan par baith saken,
Tumhen dekh sake, tumhen bardaasht kar saken…

shahrukh khan shayari

अपने हिस्से की जिंदगी को हम जी चुके चुन्नी बाबू…
अब तो बस धड़कनों का लिहाज करते हैं…
क्या कहें ये दुनियावालों को जो आखिरी सांस
पर भी ऐतराज करते हैं

Apane hisse kee jindagee ko ham jee chuke chunnee baaboo…
Ab to bas dhadakanon ka lihaaj karate hain…
Kya kahen ye duniyaavaalon ko jo aakhiree saans
Par bhee aitaraaj karate hain

प्यार का कारोबार तो बहुत बार किया है,
मगर प्यार सिर्फ एक बार

Pyaar ka kaarobaar to bahut baar kiya hai,
Magar pyaar sirph ek baar

let’s wrap it,

हम आशा करते है आपको Devdas Shayari Shahrukh Khan पर यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा तो इस आर्टिकल को अपने सभी दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई क्वेरी हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते है !

और शायरी पढ़े 😉

दोस्ती की तारीफ शायरी हिंदी में – Dostee Kee Taareef Shayari Hindi Mein !

Dostee Kee Taareef Shayari – क्या आप अपने किसी खास दोस्त को खुश करना चाहते है हम ऐसा इसलिए पूछ रहे है क्युकी आज हम आपके लिए लेकर आये है तेरी दोस्ती की तारीफ ज़ुबान पे आने लगी शायरी जिसे आप अपने सबसे खास दोस्त के साथ शेयर कर सकते है और उसके मन लुभावित कर सकते है और उसे कुछ ख़ुशी के खास पल दे सकते है 

शायरी पढ़े 😉 

तेरी दोस्ती की तारीफ ज़ुबान पे आने लगी
दोस्ती की और जिंदगी मुस्कुराने लगी
ये मेरी दोस्ती थी या तेरी अच्छाई
की मेरी हर सांस से तेरे लिए दुआ आने लगी

Teree Dostee Kee Taareef Zubaan Pe Aane Lagee
Dostee Kee Aur Jindagee Muskuraane Lagee
Ye Meree Dostee Thee Ya Teree Achchhaee
Kee Meree Har Saans Se Tere Lie Dua Aane Lagee

Let’s Wrap It,

हम आशा करते है आपको  Teree Dostee Kee Taareef  Shayari पसंद आई होगी अगर आपको यह Dosti पर शायरी  पसंद आई तो इस शायरी को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करें !

Sitaron Ko Aankhon Mein Mehfooz Rakhna Shayari Hindi Mein – सितारों को आँखों में महफूज रखना शायरी हिंदी में !

Sitaron Ko Aankhon Mein Mehfooz Rakhna Shayari Hindi Mein ! सितारों को आँखों में महफूज रखना शायरी हिंदी में !

क्या आप Sitaron Ko Aankhon Mein Mehfooz Rakhna हिंदी शायरी सर्च कर रहे है अगर हम सही है तो आपको बताना चाहेंगे की आज हम आपके लिए लेकर आये सितारों को आँखों में महफूज रखना शायरी हिंदी में जिसे पढ़कर आपका दिल बाग बाग हो जाएगा..

अब आप शायरी पढ़े 😉

सितारों को आँखों में महफूज रखना..
बड़ी देर तक रात ही रात होगी..
मुसाफिर हैं हम मुसाफिर हो तुम भी..
किसी मोड़ पर फिर मुलाक़ात होगी..!!

Sitaaron Ko Aankhon Mein Mahaphooj Rakhana..
Badee Der Tak Raat Hee Raat Hogee..
Musaaphir Hain Ham Musaaphir Ho Tum Bhee..
Kisee Mod Par Phir Mulaaqaat Hogee..!!

sitaron ko aankhon mein mehfooz rakhna

एक दिन जब हम दुनिया से चले जायेंगे..
मत सोचना हम आपको भूल जायेंगे..
बस एक बार आसमान के तरफ देखना..
मेरे पैगाम सितारों पर लिखे नज़र आएंगे..!!

Ek Din Jab Ham Duniya Se Chale Jaayenge..
Mat Sochana Ham Aapako Bhool Jaayenge..
Bas Ek Baar Aasamaan Ke Taraph Dekhana..
Mere Paigaam Sitaaron Par Likhe Nazar Aaenge..!!

Let’s Wrap It,

हम आशा करते है आपको  सितारों को आँखों में महफूज रखना हिंदी शायरी पसंद आई होगी अगर आपको इस शायरी को पढ़कर अच्छा लगा तो इस शायरी को अपने सोशल मीडिया अकाउंट अपने सभी रिलेटिव और दोस्तों के साथ शेयर करें  अगर आप इस आर्टिकल से समन्धित कोई सुझाव हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में सुग्गेस्ट कर सकते है !

और शायरी पढ़े 😉

क्या आप गूगल पर Amitabh Bachchan Shayari तलाश रहे है तो यह पोस्ट आपके लिए है ?

क्या आप Amitabh Bachchan Shayari तलाश रहे है अगर हा तो आप सही आर्टिकल पर है क्युकी आज हम आपके लिए अमिताभ बच्चन की बहुत ही पोपुलर शायरी Kabhi Kabhi Shayari लेकर आये है जिसे अमिताभ जी अपने मुहं जुबानी कही है जो आपके दिल-ओ-दिमाग को बाग-बाग कर देगी तो चलिए चलते है आज के हमारे पोस्ट अमिताभ बच्चन शायरी पर..

So Let’s Begin

Kabhi Kabhi Shayari By Amitabh Bachchan Mukh Jabaani – कभी कभी शायरी अमिताभ बच्चन के मुख जवानी..

कभी कभी मेरे दिल मैं ख्याल आता हैं
कि ज़िंदगी तेरी जुल्फों कि नर्म छांव मैं गुजरने पाती
तो शादाब हो भी सकती थी
यह रंज-ओ-ग़म कि सियाही जो दिल पे छाई हैं
तेरी नज़र कि शुओं मैं खो भी सकती थी
मगर यह हो न सका और अब ये आलम हैं
कि तू नहीं तेरा ग़म तेरी जुस्तजू भी नहीं
गुज़र रही हैं कुछ इस तरह ज़िंदगी जैसे
इससे किसी के सहारे कि आरझु भी नहीं
न कोई राह न मंजिल न रौशनी का सुराग
भटक रहीं है अंधेरों मैं ज़िंदगी मेरी
इन्ही अंधेरों मैं रह जाऊँगा कभी खो कर
मैं जानता हूँ मेरी हम-नफस मगर यूंही
कभी कभी मेरे दिल मैं ख्याल आता है

Kabhee kabhee mere dil main khyaal aata hain
Ki zindagee teree julphon ki narm chhaanv main gujarane paatee
To shaadaab ho bhee sakatee thee
Yah ranj-o-gam ki siyaahee jo dil pe chhaee hain
Teree nazar ki shuon main kho bhee sakatee thee
Magar yah ho na saka aur ab ye aalam hain
Ki too nahin tera gam teree justajoo bhee nahin
Guzar rahee hain kuchh is tarah zindagee jaise
Isase kisee ke sahaare ki aarajhu bhee nahin
Na koee raah na manjil na raushanee ka suraag
Bhatak raheen hai andheron main zindagee meree
Inhee andheron main rah jaoonga kabhee kho kar
Main jaanata hoon meree ham-naphas magar yoonhee
Kabhee kabhee mere dil main khyaal aata hai

Let’s Wrap it,

हम आशा करते है आपको आज का पोस्ट Amitabh Bachchan पर  Shayari पसंद आई होगी अगर आपको आज का आर्टिकल पसंद आया इस आर्टिकल को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपने रिलेटिव और अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर करें अगर आपको इस आर्टिकल से रिलेटेड कोई Query हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते है.

और शायरी पढ़े 😉