Tera Khyaal Dil Se Mitaaya Nahin Abhee- तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी(Bewafa Shayar)

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी
बेवफा मैंने तुझ को भुलाया नहीं अभी

कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये – Kaise Milenge Hamen Chaahane Vaale Bataiye !

कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये
दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह
वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए
सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह

Bewafai Uskee Dil Se Mita Ke Aaya Hoon – बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ !

बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ

 

मेरा शहर छोड़ दो – Mera Shahar Chhod Do Bewafa Shayari !

वो बेवफा हर बात पे देता है परिंदों की मिसाल
साफ साफ नहीं कहता मेरा शहर छोड़ दो

Kuchh Log Yahaan Par Aise Hai Jo Yaar Badlte Rahte Hain Bewafa Shayari !

इकरार बदलते रहते है… इंकार बदलते रहते हैं
कुछ लोग यहाँ पर ऐसे है जो यार बदलते रहते हैं

वो बेवफा ना आई – Woh Bewafa Na Aaee

जल-जल के दिल मेरा जलन से जल रहा
एक अश्क मेरे आँख में मुद्दत से पल रहा
जिसका मैं कर रहा हूँ घुट-घुट के इंतजार
वो बेवफा ना आई मेरा दम निकल रहा