Best Political Shayari in hindi 2021 -2021 की सर्वश्रेष्ठ राजनीतिक शायरी हिंदी में !

2021 की सर्वश्रेष्ठ राजनीतिक शायरी हिंदी में – Best Political Shayari in hindi 2021

Hello Guys, आज हम इस आर्टिकल में आपके लिए Best Political Shayari हिंदी में शेयर कर रहे है उमीद है आपको Political Shayari पर यह आर्टिकल जरुर पसंद आएगा और आप इस आर्टिकल को आगे भी अपने सभी दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करेंगे अब आप निचे Politics पर यह आर्टिकल पढ़ सकते है !

So Let’s Begin,

कल सियासत में भी मोहब्बत थी_##
अब मोहब्बत में भी सियासत है !!
कागज के इंसानो पर आग की निगरानी है_##
अंधी सत्ता के हाथों मासूमो को जान गवानी है !!
सरकार को गरीबों का ख्याल कब आता है?
चुनाव नजदीक आ जाए तो मुद्दा उछाला जाता है.
मुर्दा लोहे को औजार बनाने वाले_##
अपने आँसू को हथियार बनाने वाले_##
हमको बेकार समझते हैं सियासतदां
मगर हम है इस मुल्क की सरकार बनाने वाले.
चोर_## बेईमान और भ्रष्ट नेताओं की क्यों करते हो बात_##
लोकतंत्र की ताकत है जनता में_## दिखला दो इनकी औकात.
मूल जानना बड़ा कठिन हैं नदियों का_## वीरो का_##
धनुष छोड़कर और गोत्र क्या होता हैं रणधीरो का_##
पाते हैं सम्मान तपोबल से भूतल पर शूर_##
“जाति-जाति” का शोर मचाते केवल कायर_## क्रूर.
जहाँ सच हैं_## वहाँ पर हम खड़े हैं_##
इसी खातिर आँखों में गड़े हैं.
नेता की बातों में सच्चाई का अभाव होता है_##
झूठ बोलना तो इनका स्वभाव होता हैं.
नेता भी क्या खूब ठगते हैं_##
ये तो 5 साल बाद ही दिखते हैं.
नजर वाले को हिन्दू और मुसलमान दिखता हैं_##
मैं अन्धा हूँ साहब_## मुझे तो हर शख्स में इंसान दिखता हैं.
मैं अपनी आँख पर चशमाँ चढ़ा कर देखता हूँ
हुनर ज़ितना हैं सारा आजमा कर देखता हूँ
नजर उतना ही आता हैं की ज़ितना वो दिखाता है
मैं छोटा हू मगर हर बार कद अपना बढ़ा कर देखता हूँ
लोकतंत्र जब अपने असली रंग में आता हैं_##
तो नेताओं की औकात का पता चल जाता हैं.
तुम से पहले वो जो इक शख़्स यहाँ तख़्त-नशीं था_##
उस को भी अपने ख़ुदा होने पे इतना ही यक़ीं था.

Shayari on Politics in Hindi | शायरी ऑन पॉलिटिक्स

राजा बोला रात है
राणी बोली रात है
मंत्री बोला रात है
संत्री बोला रात है
यह सुबह सुबह की बात है
सभी एक जैसा ही लिखते हैं_## बस मतलब बदल जाते हैं_##
सरकारे वैसे ही चलती हैं_## बस वजीर-ए-आजम बदल जाते हैं.
गंदी राजनीति का यह भी एक परिणाम हैं_##
बीस रूपये एक बोतल पानी का दाम हैं.
मुझको तमीज की सीख देने वाले_##
मैंने तेरे मुँह में कई जुबान देखा है_##
और तू इतना दिखावा भी ना कर अपनी झूठी ईमानदारी का
मैंने कुछ कहने से पहले अपने गिरेबां में देखा है.
सियासत की रंगत में ना डूबो इतना_##
कि वीरों की शहादत भी नजर ना आए_##
जरा सा याद कर लो अपने वायदे जुबान को_##
गर तुम्हे अपनी जुबां का कहा याद आए.
राजनीति में अब युवाओं को भी आना चाहिए_##
देश को ईमानदारी का आईना दिखाना चाहिए.
युवा नेता शायरी
न मस्जिद को जानते हैं_##
न शिवालो को जानते हैं_##
जो भूखे पेट हैं_##
वो सिर्फ निवालों को जानते हैं.
क्या खोया_## क्या पाया जग में_##
मिलते और बिछुड़ते मग में_##
मुझे किसी से नही शिकायत
यद्यपि छला गया पग-पग में.
सवाल जहर का नहीं था_## वो तो मैं पी गया_##
तकलीफ लोगों को तब हुई_## जब मैं फिर भी जी गया.
हमारी रहनुमाओ में भला इतना गुमां कैसे_##
हमारे जागने से_## नींद में उनकी खलल कैसे.
इस नदी की धार में ठंडी हवा तो आती हैं_##
नाव जर्जर ही सही_## लहरों से टकराती तो हैं.

हम उमीद करते है आपको Political shayari in hindi आर्टिकल पसंद आया होगा और Politics पर हमारे द्वारा पब्लिश शायरी पसंद आई होगी अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इस आर्टिकल को पाने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करें ताकि हम आगे भी आपके लिए ऐसे ही और भी शायरी लेकर आते रहे इस आर्टिकल को यहाँ तक पढने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद आपका दिन शुभ हो !!!