Zindagi Na Milegi Dobara Shayari – जिन्दगी न मिलेगी दोबारा शायरी !

जिन्दगी न मिलेगी दोबारा – इस मूवी के बारे शायद ही आज कोई होगा जो जानता नहीं होगा यह फिल्म अपने समय में बहुत पोपुलर हुई थी यह फिल्म 15 जुलाई 2011 को रिलीज़ की गई थी इस फिल्म में मुख्य अभिनेता रूप में ऋतिक रोशन, अभय देयोल, फरहान अख्तर, कैटरीना कैफ ने अहम् भूमिका निभाई है इस फिल्म को देखने की समय सीमा 153 मिनट है

आज अगर आप इस शायरी पर है आप गौर कर सकते है की फिल्म को काफी समय बीत गया है पर इस फिल्म में फरहान अख्तर द्वारा कहे गये शेर आज भी बहुत प्रचलित है आज तक लोगों के जुबान पर है ये शेर जावेद अख्तर ने लिखे थे

आज हम DynamicShayari की गाइड में उन्ही चार शेर को आपके साथ साझा कर रहे है और हमें उमीद है आपके वही पल फिर से ताज़ा हो जायेंगे अगर आपको जिन्दगी न मिलेगी दोबारा पर शायरी पसंद आये तो हमें अपने शब्दों के माध्यम से कमेंट बॉक्स में जरुर शेयर करें

दिल आखिर तू क्यों रोता है [ये शेर फरहान ने आपने पिता से मिलने और कई सवालों के कटु जवाब जानने के बाद कहे थे ]

पिघले नीलम सा बहता हुआ ये समां [ये शेर स्कूबा डाईविंग के बाद कहा गया था ]

एक बात होटों तक [ लैला से बिछड़ते वक्त अर्जुन के दिल का बयां ]

तो जिंदा हो तुम [फिल्म के अंत में जब तीनो दोस्त बुल-रेस में सही सलामत बच जाते हैं तब ये शायरी सामने आई थी ]