शरारतें करने का मन अभी भी करता है – Sharaaraten Karne Ka Man Abhee Bhee Karta Hai !

शरारतें करने का मन अभी भी करता है,
पता नहीं बचपना जिंदा है या इश्क अधुरा है..!

Spread the love

Leave a Comment